कोरोना पर सर्वदलीय बैठक चढ़ी राजनीति की भेंट

नई दिल्‍ली: (दिव्‍यांशु मल्‍होत्रा की रिपोर्ट)- दिल्ली में कोरोना के ब्रेक फेल हो चुके हैं और देश की राजधानी दिल्ली में हर रोज़ कोरोना के 7 से 8 हज़ार नए मामले सामने आ रहे हैं। कोरोना के इतने मामलों के कारण दिल्ली सरकार को समझ ही नहीं आ रहा है कि आखिर ऐसा क्या कदम उठाए जाएं जिससे दिल्ली में बेकाबू कोरोना को काबू में किया जा सकेइसी को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री केजरीवाल ने वीरवार को एक सर्वदलीय बैठक बुलाई। सर्वदलीय बैठक करीब डेढ़ घंटे से ज्यादा चली और इस बैठक में दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष आदेश गुप्ता, नेता विपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी कांग्रेस के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी मौजूद रहे।

 

हालांकि जिस बात डर था आखिर वही हुआ, केजरीवाल की सर्वदलीय बैठक राजनीति की भेंट चढ़ गयीबैठक खत्म होने के बाद बाहर आए बीजेपी के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा मुख्यमंत्री साहब ने बहुत देर लगा दी ये बैठक बुलाने में इसके साथ साथ उन्होंने कहा कि दिल्ली में आईसीयू बेड और वेंटिलेटर बढ़ाने में दिल्ली सरकार फेल नज़र आयी,अगर समय रहते इनकी संख्या को बढ़ाया जाता तो शायद स्थिति को कंट्रोल जा सकता था उन्होंने कहा कि दिल्ली में टेस्टिंग की संख्या और कांटेक्ट ट्रेसिंग भी बढ़ाई जानी चाहिएइसके साथ साथ उन्होंने केजरीवाल सरकार पर केजरीवाल सरकार पर विज्ञापन पर 125 करोड़ रुपए खर्च करने का भी आरोप लगाया

 

बैठक खत्म होने के बाद कांग्रेस भी यही राग अलापती हुई नजर आयी, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी ने कहा कि दिल्ली में लॉक डाउन और मार्किट बंद करने पर स्थिति साफ की जानी चाहिए और दिल्ली में फिर से मार्किट बंद करने निर्णय अगर लिया गया तो वो ठीक नहीं होगा और इसके साथ साथ अनिल चौधरी ने कहा कि अब तक लॉक डाउन की वजह से छोटे व्यापारियों को जो नुकसान हुआ है उसकी भरपाई के लिए उनको सरकार की तरफ से मुआवजा दिया जाना चाहिएइसके साथ ही अनिल चौधरी ने सर्वदलीय बैठक में दिल्ली में टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने, सैनिटाइजेशन बढ़ाने का भी सुझाव दिया

 

बैठक खत्म होने के बाद मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में सभी राजनीतिक पार्टियों के नेता राजनीति से ऊपर उठकर दिल्ली की जनता की सेवा करे।

 

 

Top Hindi News, Latest News Updates, Delhi Updates, Haryana News, click on Delhi Facebook, Delhi twitter  and Also Haryana Facebook, Haryana Twitter.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *