अनलॉक-3 को लेकर केजरीवाल सरकार और LG में फिर से टकराव, मनीष सिसोदिया ने केंद्रीय गृह मंत्री को लिखी चिट्ठी

दिल्ली की केजरीवाल सरकार और उपराज्यपाल अनिल बैजल के बीच फिर से टकराव हो गया है। अबकी बार अनलॉक-3 को लेकर दिल्ली सरकार और एलजी के बीच ये खींचतान शुरू हुई है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह इस मामले को लेकर चिट्ठी लिखी है।

आपको बता दें, अनलॉक-3 के तहत लिए गए केजरीवाल सरकार के दो अहम फैसलों को उपराज्यपाल ने खारिज कर दिया है। केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में होटल खोलने और ट्रायल बेसिस पर एक हफ्ते के लिए साप्ताहिक बाजार खोलने की अनुमति दी थी। उपराज्यपाल ने इन दोनों ही फैसलों को खारिज कर दिया है । जिसके बाद एक बार फिर से केजरीवाल सरकार और उपराज्यपाल अनिल बैजल के बीच टकराव देखने को मिल रहा है।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को एक चिट्ठी भी लिखी है। इस चिट्ठी में उन्होंने दिल्ली में कोरोना नियंत्रण में होने के बावजूद एलजी अनिल बैजल के द्वारा होटल और साप्ताहिक बाजार खोलने की इजाजत नहीं देने पर विरोध जाहिर किया है। इसके साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री से मांग की है कि एलजी को मुख्यमंत्री के फैसले को लागू करने का निर्देश दें।

मनीष सिसोदिया ने चिट्टी में यह भी लिखा है कि कोरोना मामलों को लेकर दिल्ली में दूसरे राज्यों से बेहतर स्थिति है। साप्ताहिक बाजार बंद होने की वजह से 5 लाख परिवारों के सामने रोजी रोटी का संकट बना हुआ है ।

अनिल बैजल और दिल्ली सरकार के बीच टकराव ये कोई पहला टकराव नहीं है। इससे पहले भी अपने फैसलों को लेकर दोनों के बीच टकराव देखने को मिला है। इससे कुछ दिनों पहले दिल्ली सरकार ने फैसला किया था कि दिल्ली के निजी अस्पतालों में सिर्फ स्थानीय लोगों का ही इलाज होगा और इसके साथ ही कोरोना टेस्टिंग को लेकर कहा था कि सिर्फ संदिग्ध लोगों का ही टेस्ट किया जाए, जिन लोगों में लक्षण नहीं उनकी टेस्टिंग की जरूरत नहीं है। इस पर एलजी अनिल बैजल ने सीएम केजरीवाल के इन दोनों ही फैसलों को पलट दिया था और कहा दिल्ली में सभी का इलाज होगा जैसा अबतक होता आया है। वहीं होम क्वारेंटाइन, ट्रांसफर-पोस्टिंग जैसे अन्य मामलों पर भी दोनों के बीच टकराव सामने आता रहा है।

Top Hindi NewsLatest News Updates, Delhi Updates, Haryana News, click on Delhi FacebookDelhi twitter  and Also Haryana FacebookHaryana Twitter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *